Hindi Essay On Moon

चंद्र ग्रहण के 10 रोचक तथ्य


1. चंद्र ग्रहण एक तरह का ग्रहण है जब सूर्य और चन्द्रमा के बीच पृथ्वी की स्थिति होती है, पृथ्वी की छाया चन्द्रमा पर पड़ती है जिससे चन्द्रमा का कुछ या संपूर्ण भाग अंधकारमय रहता है और पृथ्वी से नहीं दिखाई पड़ता है।
2. विज्ञान की दृष्टि से जब पृथ्वी, सूर्य व चन्द्रमा के बीच में आ जाती है तो चन्द्रमा का कुछ या संपूर्ण भाग अंधकारमय रहता है, उसी घटना को चंद्र ग्रहण कहा जाता है।
3. हिंदू धर्म में चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण का बहुत महत्व है. शास्त्रों में भी ग्रहण से जुड़ी कई बातें कही गई हैं।
4. भारत में ग्रहण को लेकर कई अंधविश्वास भी हैं, जबकि विज्ञान ग्रहण को लेकर किसी भी अंधविश्वास को नहीं मानता। विज्ञान के मुताबिक ग्रहण पूरी तरह खगौलीय घटना है।
5. चंद्र ग्रहण हमेशा पूर्णिमा (Full Moon) की रात को ही होता है।
6. जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा एक सरल रेखा में होते हैं तो चंद्रग्रहण की स्थिति होती है।
7. चंद्र ग्रहण दो प्रकार के होते हैं जिन्हें पूर्ण चंद्र ग्रहण और आंशिक चंद्र ग्रहण कहते हैं।
8. जब पृथ्वी की छाया समस्त सम्मुख भाग पर पड़ती है और चंद्रमा का सम्पूर्ण भाग अंधकारमय हो जाता है, पूर्ण चंद्र ग्रहण (Total Lunar Eclipse) होता है।
9. जब चंद्रमा का कुछ ही भाग छाया में होता है, उसका उतना अंधकारमय भाग चाप के आकार में कटा हुआ दिखाई पड़ता है। इसे खंड चंद्र ग्रहण या आंशिक चंद्र ग्रहण (Partial Lunar Eclipse) कहते हैं।
10. चंद्र ग्रहण को हिन्दू धर्म में शुभ नहीं माना जाता है।
 

कुछ लोगो मानना हैं कि चाँद पर उतरना मात्र एक अफवाह थी. वो सोचते है आज तक चंद्रमा पर कोई गया ही नही हैं. ऐसी अफ़वाहें तो उड़ती ही रहती हैं. लेकिन हम आपके लिए एक पोस्ट लेकर आए हैं Moon In Hindi इसे पोस्ट पढ़ने पर आपको अहसास होगा कि आप चांद के बारे में कितने अनजान थे .

Moon Facts in Hindi
चाँद के बारे में रोचक तथ्य

1. चंद्रमा गोल नही है बल्कि यह अंडे के आकार का है.

2. पिछले 41 साल से चांद पर कोई आदमी नही गया है.

3. चन्द्रमा पृथ्वी का एकमात्र प्राकृतिक उपग्रह है। चन्द्रमा 4.5 अरब साल पहले पृथ्वी और थीया (मार्स के आकार का तत्व) के बीच हुए भीषण टकराव के बाद बचे हुए अवशेषों के मलबे से बना था.

4. धरती से अगर चांद गायब हो जाए तो पृथ्वी पर दिन महज छह घंटे के लिए होगा.

5. चाँद का व्यास धरती के व्यास का सिर्फ चौथा हिस्सा है और लगभग 49 चाँद धरती में समा सकते हैं.

6. सौर मंडल के 63 उपग्रहो में चाँद का आकार 5 वे नंम्बर पर है.

7. चाँद का क्षेत्रफल अफ्रीका के क्षेत्रफल के बराबर है.

8. नील आर्मस्ट्रांग जब पहली बार चांद पर चले थे, तो उनके पास Wright Brothers के पहले हवाई जहाज का एक टुकड़ा था.

9. चंद्रमा की गुरुत्वाकर्षण शक्ति पृथ्वी से कम होती है अगर आंकड़ों में बात की जाए तो चांद पर इंसान का वजन 16.5% कम होता है. यही कारण है कि चांद पर अंतरिक्ष यात्री ज्यादा उछलकूद कर सकते हैं.

10. क्या आपको पता है कि 1950 के दशक के दौरान अमेरिका ने परमाणु बम से चंद्रमा को उड़ाने की योजना बनाई थी.

11. नील आर्मस्ट्रोग ने चाँद पर जब अपना पहला कदम रखा तो उससे जो निशान चाँद की जमीन पर बना वह अब तक है और अगले कुछ लाखों सालो तक ऐसा ही रहेगा. क्योंकि चांद पर हवा तो है ही नही जो इसे मिटा दे.

12. आज तक महज 12 लोग ही चांद पर कदम रख पाए हैं.

13. जब अंतरिक्ष यात्री एलन सैपर्ड चांद पर थे तब उन्होंने एक golf ball को hit मारा जोकि तकरीबन 800 मीटर दूर तक गई.

14. अगर आप अपने इंटरनेट की स्पीड से खुश नहीं हैं तो आप चांद का रुख कर सकते है. जी हां, नासा ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए चांद पर वाई-फाई कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध कराई है जिसकी 19 एमबीपीएस की स्पीड बेहद हैरतअंगेज है.

15. चंद्रमा की गुरुत्वाकर्षण शक्ति कम है. किसी भी तरह का वायुमंडल का न होने का मतलब है कि सौर वायु और उल्कापिंड के आने का खतरा लगातार बना रहता है.

16. चाँद पर पानी भारत की खोज है. भारत से पहले भी कई वैज्ञानिको का मानना था कि चांद पर पानी होगा परन्तु किसी ने खोजा नही.

17. अपने बैग और एक अमेरिकन झंडे के अलावा एपोलो 11 के अंतरिक्ष यात्री चांद की धरती पर कुछ यादगार निशानी भी छोड़ गए थे।

18. चंद्रमा पर मनुष्य द्वारा छोडे गए 96 बैग ऐसे है जिनमें मल,मूत्र और उल्टी है।

19. चंद्रमा की सतह पर धूल का गुबार सूर्योदय और सूर्यास्त के समय पर मंडराता रहता है। इसका असली कारण अभी तक पता नहीं चल सका है।

20. चांद पर करीब 1 लाख 81 हजार 400 किलो का मानव निर्मित मलबा पड़ा हुआ है जिसमें 70 से अधिक अंतरिक्ष यान और दुर्घटनाग्रस्त कृत्रिम उपग्रह भी शमिल हैं।

21. पृथ्वी पर अगर चंद्र ग्रहण लगा है तो चांद पर सूर्य ग्रहण होगा।

22. चांद धरती के आकार का सिर्फ 27 प्रतीशत हिस्सा ही है.

23. चाँद का वजन लगभग 81,00,00,00,000(81 अरब) टन है.

24. पूरा चाँद आधे चाँद से 9 गुना ज्यादा चमकदार होता है.

25. अगर आप का वजन धरती पर 60 किलो है तो चाँद की low gravity की वजह से चाँद पर आपका वजन 10 किलो ही होगा.

26. चंद्रमा पृथ्वी से हर साल 3.78 सेमी दूर होता जा रहा है और अगले 50 अरब साल तक ऐसा ही होता रहेगा।

27. जब सारे अपोलो अंतरिक्ष यान चाँद से वापिस आए तब वह कुल मिलाकर 296 चट्टानों के टुकड़े लेकर आए जिनका द्रव्यमान(वजन) 382 किलो था.

28. चाँद धरती के ईर्ध-गिर्द घूमते समय अपना सिर्फ एक हिस्सा ही धरती की तरह रखता है इसलिए चाँद का दूसरा पासा आज तक धरती से किसी मनुष्य ने नही देखा.

29. चाँद का सिर्फ 59 प्रतिशत हिस्सा ही धरती से दिखता है.

30. चाँद के दिन का तापमान 180 डिगरी सेलसीयस तक पहुँच जाता है जब कि रात का -153 डिगरी सेलसीयस तक.

31. ये जानकर हैरानी होगी कि आपके मोबाइल फोन में अपोलो 11 यान के चंद्रमा लैंडिग के समय यूज किये गए कंप्यूटर की तुलना में अधिक कंप्यूटिंग शक्ति है।

32. Apollo-11 यान का चंद्रमा लैंडिग के समय बनाया गया Original टेप मिट गया था यह गलती से दोबारा इस्तेमाल कर लिया था।

33. अमेरिकी सरकार ने चांद पर आदमी भेजने और ओसामा बिन लादेन को ढूंढने में बराबर टाइम और पैसा खर्च किया : 10 साल और 100 बिलियन $.

Related Post:



loading...

0 thoughts on “Hindi Essay On Moon

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *